सोमवार, जनवरी 10, 2011

वो जिंदा है अभी !!






वो लिखना चाहता था , स्टेज़ पर जाकर वो भी जोर जोर से चिल्लाना चाहता था ,  वो एक कलाकार है , उसे थीयेटर का शौक है . खुद को वहाँ देखना उसका ऐसा ख्वाब है , जिसे उसने अपने लिए देखा है .

पर क्यूँ लगता है  कि लोग सही कहते हैं ... ज़िन्दगी में हमें सब कुछ हासिल नहीं होता ! . .पर ख्वाब पा लेने कि चाह अगर साँस लेने में तकलीफ देने लगे तो ?  .. तब उन लोगो को और उस ज़िन्दगी को छोड़ कर हमें दौड़ना होता है , बिना किसी सहारे के ,एक अनजानी डगर में .. लगातार ...अपने ख़्वाबों के पीछे ... कई मोड़ों कि बीच कभी ऐसे दोराहे भी आते हैं जब आगे का रास्ता दिखाई  नहीं पड़ता ...अपनी अलग राह चुनने में हमारे अपने  और  कभी कभी हम भी बहुत पीछे छुट जाते हैं ..

ऐसा नहीं है कि उसने कभी कोशिश नहीं की , इंजीनियरिंग के बाद घर में बिना बताये , दिल्ली में उसने एक थीयेटर में कोचिंग क्लास भी ज्वाइन किया था . पर ज़िन्दगी... जब बंद किताबों से निकल कर खुली सडकों पर आती है , तो काले अक्षरों के पीछे का सच दिखाई पड़ता है ..और मालूम पड़ता है कि "अ" शब्द का वो अनार असल में कितना महंगा है !  खुद कि जेब भरने ही ज़द्दोज़हद में जब बगल वाले कि जेब की खनक कानो में चुभने लगती है , तो अनजान मंजिल का इस  राही का सफ़र भी  डगमगाने लगता है . और फिर पिता का ख़त , माँ कि बीमारी,  भाई का पैसों के लिए  मदद मांगना और ना दे पाने कि उसकी असमर्थता , ये काफी था उसे  उसकी दुनिया से इस दुनिया में वापस लाने के लिए .

कहते हैं , ये दुनिया एक रंगमंच है ..हम सभी को अपना अपना किरदार निभाना है ..और  देखिये ना बिना कोई स्क्रिप्ट तैयार किया, रात भर बिना रियाज़ किये कितनी बखूबी से हम खुद को जीते हैं . हाँ यहाँ नए एक्ट के लिए  हमें अपना किरदार बदलने का मौका नहीं मिलता ..शायद हम कभी ढूंढते भी नहीं ..और कभी कभी इसे बदलने कि चाहत में निर्माता हमें वापस वंही पहुंचा देता है . वो भी लौट आया है , आजकल एक आई. टी. कंपनी में अच्छे पैसा कमा  रहा है , सब के हँसते हुए चेहरों कि बीच उसने अपना भी चेहरा छुपा लिया है .

भले ही वो अब खुद को स्टेज़ पर नहीं  देख पाता पर उसका ख्वाब जिन्दा है  अभी ....  सवेरे सड़क पर गाड़ियों के बीच ट्रेफिक क्लीयर होने के इंतज़ार से शाम को अँधेरे में चुंध्लाती रोशिनी के पीछे दोड़ते हुए वो अपना ख्वाब जीता है,  आज  इस दुनिया के मंच का वो एक सफल कलाकार है .